Chaitra Navratri 7th Day: नवरात्री के सातवें दिन माँ कालरात्रि की आराधना करें

mata kalratri ki aarti

Chaitra Navratri 7th Day: worship maa kalratri, kalratri mata ki aarti. Kalaratri (sometimes spelled Kaalratri) is the seventh of the nine forms of the Goddess Durga, known as the Navadurga. This form of Goddess is believed to be the destroyer of all demon entities, ghosts, evil spirits and negative energies, who flee upon knowing of her arrival

Chaitra Navratri 7th Day: नवरात्री के सातवें दिन माँ कालरात्रि की आराधना करें

mata kalratri ki aarti

कालरात्रि माता की पूजा विधि

  • स्नान कर माता की पूजा शुरु करें
  • पूजास्थल पर मां कालरात्रि की मूर्ति स्थापित करें
  • माता की मूर्ति को जल से स्नान करायें
  • वस्त्रादि पहनाकर मां को भोग लगाएं
  • पुष्प व माला माता को अर्पण करें.
  • पूजा में मां को लाल रंग का पुष्‍प जरूर अर्पण करे.
  • गंगाजल छिड़कर घर के हर कोने को पवित्र करें
  • मंत्रोच्चार करते हुए व्रत का संकल्प पढ़ें
  • माता की कथा करें।

कालरात्रि की आरती :

कालरात्रि जय जय महाकाली

काल के मुंह से बचाने वाली

दुष्ट संहारिणी नाम तुम्हारा

महा चंडी तेरा अवतारा

पृथ्वी और आकाश पर सारा

महाकाली है तेरा पसारा

खंडा खप्पर रखने वाली

दुष्टों का लहू चखने वाली

कलकत्ता स्थान तुम्हारा

सब जगह देखूं तेरा नजारा

सभी देवता सब नर नारी

गावे स्तुति सभी तुम्हारी

रक्तदंता और अन्नपूर्णा

कृपा करे तो कोई भी दुःख ना

ना कोई चिंता रहे ना बीमारी

ना कोई गम ना संकट भारी

उस पर कभी कष्ट ना आवे

महाकाली मां जिसे बचावे

तू भी ‘भक्त’ प्रेम से कह

कालरात्रि मां तेरी जय

कालरात्रि जय जय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *